Read Time:4 Minute, 9 Second

ट्रम्प पर दूसरा महाभियोग, पहले राष्ट्रपति बने ट्रम्प जिन पर दो बार चलेगा महाभियोग
अमेरिका में डोनाल्ड ट्रम्प के जाने के संकेत जब से पुख्ता हुए है तबसे उनके समर्थको का अलग ही अंदाज़ नज़र आ रहा है, दुनिया के सबसे पुराने गणतंत्र पर हमले के तौर पर देखा जा रहा है कैपिटल हिल वाली घटना को, जिस पर की सभी देशों ने अपनी राय व्यक्त की है. ट्रम्प पर महाभियोग भी चलने जा रहा है, जो की ऐसे कृत्य पर आवश्यक भी कहा जायेगा.
सदन में इस प्रस्ताव को सोमवार को पारित किया जायेगा, इसमें मुख्य आरोप कैपिटल हिल में अपने समर्थको को उकसाना है. इस घटना में लोगों की जान भी गयी है और साथ ही अराजकता बड़े स्तर पर फैली, जिसके चलते ये महाभियोग लाया गया है.प्रतिनिधि सभा में बुधवार से पहले एक अन्य प्रस्ताव पर भी मतदान होगा। इसके माध्यम से ट्रंप को हटाने के लिए उप राष्ट्रपति माइक पेंस और कैबिनेट से अपील की जाएगी. 25वें संविधान संशोधन के प्रावधानों को लागू कर ट्रंप को फौरन छुट्टी देने की तैयारी है.

अप्रैल में रखी जाएगी नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की नींव, प्रधानमंत्री करेंगे शिलान्यास

डेमोक्रेट सांसदों ने यह प्रस्ताव सोमवार को पेश किया था। इसक ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी के सांसद ने विरोध किया था इस प्रस्ताव प अमल के लिए बुधवार सुबह तक की मोहलत दी जाएगी। इस पर अमल नहीं होने पर सदन में बुधवार को ही महाभियोग प्रस्ताव पर चर्चा शुरू होगी फिर शाम को मतदान कराया जाएगा।
राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ यदि महाभियोग प्रस्ताव पर प्रतिनिधि से सभा की मुहर लग जाती है तो ट्रंप अपने कार्यकाल में दूसरी यार महाभियोग का सामना करने वाले अमेरिका के पहले राष्ट्रपति बन जाएंगे। प्रतिनिधि सभा में ट्रंप के खिलाफ पद के दुरुपयोग के आरोप में दिसंबर, 2019 में भी महाभियोग लाया गया था। लेकिन बाद में यह महाभियोग रिपब्लिकन के बहुमत वाले संसद के ऊपरी सदन सीनेट में गिर गया था।

अमेरिका में 70 साल बाद किसी महिला को दी गई मौत की सजा

प्रतिनिधि सभा की स्पीकर और डेमोक्रेट नेता नैसी पेलोसी ने हुए कहा, पर “हमारे संविधान और लोकतंत्र की पेंस रक्षा के लिए हमें तुरंत कदम उठाना होगा, क्योंकि राष्ट्रपति ट्रंप अमेरिका लिए के लिए खतरा हैं।
अमेरिका इस समय कोरोना के साथ ही राष्ट्रपति चुनाव का गवाह बना है, साथ ही 204 साल बाद संसद पर हमले ने पूरे अमेरिकी लोकतंत्र को हिला दिया है, इसके कारण वैश्विक रूप से अमेरिकी लोकतंत्र सबकी निगाहों में है, इस पर क्या करवाई होगी उसके आधार पर नयी सरकार अपने कार्यकाल को प्रारम्भ करेगी.
ऐसी तमाम ख़बरों के लिए जुड़े रहे करंट न्यूज़ के साथ, हमे बताये कैसा लगा आर्टिकल “ट्रम्प पर दूसरा महाभियोग” लाइक शेयर सब्सक्राइब करके|

About Post Author

Author

administrator