करंट न्यूज़

खबर घर घर तक

बंगाल में एक परिवार ने मुस्लिम लड़की की पूजा करके बनाई एक नई मिसाल

बंगाल में एक परिवार ने मुस्लिम लड़की की पूजा करके बनाई एक नई मिसाल

इस साल पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में महाअष्टमी के मौके पर कुमारी पूजन के दौरान एक हिंदू परिवार ने चार साल की मुस्लिम बच्ची की पूजा कर साम्प्रदायिक सौहार्द एक अद्भुत मिसाल कायम की है| यह पुनीत कार्य कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना जिले में अर्जुनपुर का रहने वाला दत्त परिवार ने किया है|

जिले में अर्जुनपुर का रहने वाला दत्त परिवार 2013 से ही अपने घर में माता की पूजा करता है| इस साल उन्होंने पुरानी परंपराओं से हटकर साम्प्रदायकि सौहार्द के लिए कुछ करने की सोचा|

महाअष्टमी के दिन कुमारी कन्याओं को देवी दुर्गा का स्वरूप मानकर उनकी पूजा की जाती है| स्थानीय निकाय में इंजीनियर तमल दत्त ने बताया कि जातिगत और धार्मिक बाध्यताओं के कारण पहले हम सिर्फ ब्राह्मण कन्याओं के साथ कुमारी पूजन करते थे|

इसे भी पढ़ें: क्या आप जानते है शाकाहारी खाना दुनिया को बचा सकता है?

गौरतलब है कि स्वामी विवेकानंद ने 121 साल पहले कश्मीर में एक मुस्लिम की बेटी की मां दुर्गा के रूप में पूजा की थी| चार साल की फातिमा के पिता मोहम्मद ताहिर आगरा के रहने वाले हैं| वह तमल दत्त के बुलावे पर पश्चिम बंगाल के कोलकाता में दुर्गापूजा घूमने आये हैं| महाअष्टमी के दिन कुमारी कन्याओं को देवी दुर्गा का स्वरूप मानकर उनकी पूजा की जाती है|

स्थानीय निकाय में इंजीनियर तमल दत्त ने बताया कि जातिगत और धार्मिक बाध्यताओं के कारण पहले हम सिर्फ ब्राह्मण कन्याओं के साथ कुमारी पूजन करते थे| वह कमरहाटी नगरपालिका में इंजीनियर हैं| वह 2013 से ही अपने घर में माता की पूजा करते हैं| इस साल उन्होंने पुरानी परंपराओं से हटकर साम्प्रदायकि सौहार्द के लिए कुछ करने का विचार किया|

नवदुर्गा में है कन्या पूजन की परंपरा

स्थानीय निकाय में अभियंता तमल दत्त ने बताया कि जातिगत और धार्मिक बाध्यताओं के कारण पहले हम सिर्फ ब्राह्मण कन्याओं के साथ कुमारी पूजन करते थे| हम सभी जानते हैं कि मां दुर्गा इस धरती पर सभी की मां हैं, उनका कोई धर्म, जाति या रंग नहीं है| इसलिए हमने परंपरा तोड़ी| उन्होंने कहा कि इससे पहले हमने गैर-ब्राह्मणों की पूजा की थी, इस बार मुसलमान लड़की की पूजा की है| गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा का महत्व बहुत ज्यादा है| इस राज्य में यह त्योहार पूरे 10 दिनों तक चलता है|

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें

एक ‘धर्मनिरपेक्ष’ दुर्गा पूजा के आयोजक तब विवादों में घिर गए, जब उनके पंडाल का एक वीडियो वायरल हो गया| कोलकाता के इस पंडाल का जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, उसमें कथित तौर पर अजान को पंडाल में बजते सुना जा सकता है| एक स्थानीय वकील ने आयोजकों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है|

इंडियन एक्सप्रेस अखबार की एक रिपोर्ट के अनुसार, एक स्थानीय वकील शांतनु सिंघा ने बेलीघाटा 33 पल्ली दुर्गा पूजा पांडाल के आयोजकों के खिलाफ पुलिस में एक शिकायत की थी| वकील ने अपनी शिकायत में 10 लोगों को नामजद किया था| इन 10 नामों में पूजा पांडाल के क्लब सेक्रेटरी का नाम भी शामिल था|

Image Source : Google

Single Column Posts

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares स्टाफ सिलेक्शन कमिशन (SSC) ने 21st February 2020 को…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares AIIMS ,ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज ने हाली…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares माइक्रोबायोलॉजिस्ट सूक्ष्मजीवों जैसे बैक्टीरिया, वायरस, शैवाल, कवक और कुछ…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares आजकल की पीढ़ी ज्यादा मेहनत में विश्वास नहीं रखती…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares कई साल पहले आम धरणा थी कि विज्ञान से…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares दुनिया में बहुत कम ऐसे लोग बचे हैं जो…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares फ़ूड इंडस्ट्री एक विज्ञान शाखा है जो उत्पादन, प्रसंस्करण,…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares एक ऑफिस में सैकड़ों लोग काम करते हैं| हर…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares आपने भी कई लोगों को कहते हुए सुना होगा…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares क्या आपको लगता है कि आपको फैशन के बारे…

Pin It on Pinterest