भारत के सबसे बेहतरीन रेलवे स्टेशन

बेहतरीन रेलवे स्टेशन

भारतीय रेलवे पिछले कुछ समय से स्टेशनों के सौंदर्यीकरण पर ध्यान दे रही है| भारत के कई रेलवे स्टेशन तो सुन्दर चित्रकारी से सजा दिए गए हैं| स्टेशनों सुंदर और साफ सुथरा बनाने के काम में तेजी लाने के लिए रेल मंत्रालय ने स्टेशन सौंदर्यीकरण प्रतियोगिता का आयोजन किया था। जिसमें महाराष्ट्र के दो स्टेशनों बल्लारशाह और चंद्रपुर रेलवे स्टेशनों ने पहला स्थान प्राप्त किया वहीं बिहार के मधुबनी रेलवे स्टेशन को इस प्रतियोगिता में दूसरा स्थान मिला है|

भारतीय रेलवे एशिया का सबसे बड़े और दुनियां का दूसरा सबसे बड़ा नेटवर्क है जो एक ही मैनेजमेंट के अंतर्गत चलाया जा रहा है. रेलवेज के लिए देश में 115,000 किमी के ट्रैक बनाए जा चुके हैं. हर दिन करीब 12,617 ट्रेनों पर 23 लाख यात्री सफर करते हैं. भारतीय रेल ट्रैक की कुल लंबाई 64 हजार किलोमीटर से ज्यादा है. वहीं अगर यार्ड, साइडिंग्स वगैरह सब जोड़ दिए जाएं तो यही लंबाई 1 लाख 10 हजार किलोमीटर से भी ज्यादा हो जाती है. 

तो यह है भारत के कुछ बेहतरीन रेलवे स्टेशन:-

1. छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, मुंबई

UNESCO वर्ल्ड हेरिटेज साइट में जगह पाया हुआ ये स्टेशन देखने में बहुत शानदार है| इस स्टेशन को इसकी वास्तुकला के लिए जाना जाता है। इसे ब्रिटेन की महारानी की गोल्डन जुबली को मनाने के लिए तैयार किया गया था, इसलिए इसका नाम भी महारानी के नाम पर विक्टोरिया टर्मिनस किया गया था। बाद में इसका नाम छत्रपति शिवाजी टर्मिनस कर दिया गया। यह बिल्डिंग अपनी विक्टोरियन- इटैलिक आर्किटेक्ट शैली के लिए पूरी दुनियां में जानी जाती है|

2. घुम रेलवे स्टेशन, पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल के हिल स्टेशन डार्लिंग में स्थिति घुम रेलवे स्टेशन भारत के सबसे खुबसूरत रेलवे स्टेशनों में से एक है. वहीँ बता दें कि तीन डब्बों वाले इंजन का नाम सिंध , सुल्तान और साहिब रखा गया था. इस रेलगाड़ी को 40 किलोमीटर का सफ़र तय करने में 1 घंटा 15 मिनट लगे थे.

3. दुधसागर रेलवे स्टेशन, गोवा

यहाँ की उल्लेखनीय बात यह हैं कि दूधसागर रेल स्टॉप एक स्टेशन नहीं हैं जहा यात्रीगण प्लेटफार्म की उम्मीद कर सकते हैं| यात्रियों और पर्यटकों को एक खड़ी सीढ़ी पर चढ़ाई कर रेल के डिब्बे तक पहुंचना पड़ता है| जहा इसका 1-२ मिनट के अनिर्धारित स्टॉप होता हैं| ये स्टेशन आपको शानदार और बहुत बड़े दूधसागर फॉल के दर्शन कराएगा| ये स्टेशन हेदराबाद और कोल्वा के बीच में पड़ता है|

4. चार बाग स्टेशन, लखनऊ

ये स्टेशन देखने में बिल्कुल महल जैसा लगता है| चार बाग रेलवे स्टेशन भारत के सबसे खूबसूरत स्टेशनों में से एक है| यह 1914 में बनकर तैयार हुआ था और इसके स्थापत्य में राजस्थानी भवन निर्माण शैली की झलक देखी जा सकती है| चार बाग का नाम यहां पर पहले मौजूद चार बागों के नाम पर रखा गया|

5. हावड़ा रेलवे स्टेशन, पशिचम बंगाल

हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन हावड़ा एवं कोलकाता शहर का रेलवे स्टेशन है| यह हुगली नदी के दाहिने किनारे पर स्थित है| इसके 23 प्लेटफार्म इसे भारत के सबसे बड़े रेलवे स्टेशनों में एक बनाते हैं| 1853 में भारत में पहली रेल गाड़ी मुम्बई से एवं 1854 दूसरी हावड़ा से चली|

6. कटक रेलवे स्टेशन, ओडिशा

कटक रेलवे स्टेशन, ईस्ट कोस्ट रेलवे के खुर्दा रोड डिवीजन के अंतर्गत संचालित भारतीय रेलवे के शीर्ष सौ दैनिक बुकिंग स्टेशनों में से एक है| कटक रेलवे स्टेशन की बनावट किले जैसी है और उसने पूरे विश्व के कई आर्किटेक्ट को प्रेरित किया है|

इसे भी पढ़ें: मेट्रो में उपलब्ध होगी स्कूटर की सुविधा

7. विजयवाडा रेलवे स्टेशन, आंध्र प्रदेश

विजयवाड़ा रेलवे स्टेशन आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में एक भारतीय रेलवे स्टेशन है| यह दक्षिण मध्य रेलवे ज़ोन के विजयवाड़ा रेलवे डिवीजन के ए-1 और मॉडल स्टेशन में से एक के रूप में वर्गीकृत है| यह देश का दूसरा सबसे व्यस्त रेलवे जंक्शन है, जो हावड़ा-चेन्नई और नई दिल्ली-चेन्नई मुख्य लाइनों के जंक्शन पर स्थित है।

8. तिरुवनन्तपुरम रेलवे स्टेशन, केरल

तिरुवनंतपुरम रेलवे स्टेशन केरल का सबसे बड़ा स्टेशन है| इस स्टेशन पर सभी संभव सुविधाएं हैं, जैसे इंटरनेट ब्राउज़िंग केंद्र, रेस्तरां, पुस्तक की दुकानें आदि चीजों की सुविधायें उपलव्ध हैं|

9. चेन्नई रेलवे स्टेशन, तमिल नाडु

चेन्नई सेंट्रल चेन्नई शहर में मुख्य रेलवे टर्मिनस है, जिसे पहले मद्रास के नाम से जाना जाता था| चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन दक्षिण भारत में सबसे महत्वपूर्ण रेलवे केंद्रों में से एक है और चेन्नई के सबसे प्रमुख स्थलों में से एक है| यह स्टेशन चेन्नई उपनगरीय रेलवे प्रणाली के लिए एक मुख्य केंद्र और दक्षिणी रेलवे के सबसे लाभदायक स्टेशन है|

10. कानपुर रेलवे स्टेशन, उत्तर प्रदेश

कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के महानगर कानपुर में स्थित भारतीय रेलवे की मध्य रेलवे शाखा के अन्तर्गत आने वाला रेलवे स्टेशन है|

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें

पिछले दिनों मधुबनी के कलाकारों द्वारा बनाई गई पेंटिंग का एक वीडियो काफी पॉपुलर हो रहा था जिसमें पूरे रेलवे स्टेशन को वहां के स्थानीय और वर्ल्ड क्लास कलाकारों ने पूरे स्टेशन को नया रंग रूप दिया| वहीं तमिलनाडु के मदुरई स्टेशन को भी दूसरा स्थान मिला| कोटा स्टेशन पर कोटा-बूंदी परम्परा की पेंटिंग बनाई गई है जो कि राजस्थान के राजसी इतिहास की याद दिलाती है| इस पेंटिंग में शिकार से लेकर कोर्ट रूम गतिविधियों के साथ-साथ शाही जुलूस इत्यादि को भी सुंदरता से उकेरा गया है| पहले स्थान पर रहे विजेता स्टेशन को 10 लाख रुपए, दूसरे स्थान पर रहे विजेता को 5 लाख रुपए और तीसरे स्थान पर रहे विजेता को 3 लाख रुपए पुरस्कार दिए जाएंगे|

रेल मंत्रालय के डायरेक्टर पब्लिसिटी एंड इनफार्मेशन वेद प्रकाश के मुताबिक देश भर में सभी रेलवे स्टेशनों को साफ सुथरा और बेहतरीन बनाने की मुहिम लगातार जारी है और रेल मंत्रालय द्वारा आयोजित की गई इस प्रतियोगिता का मकसद सभी रेलवे स्टेशनों के बीच में एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा कायम करना है| बता दें कि 2017 में 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर मधुबनी स्टेशन पर बड़े पैमाने पर मिथिला चित्रकला को प्रदर्शित करने का काम शुरू कर दिया गया था| बड़ी संख्या में कलाकारों ने इसमें हिस्सा लिया और 20 अलग-अलग विषयों पर 20 टीमें काम कर रही थी|

Image Source :- google

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *