Read Time:4 Minute, 22 Second

कोलकाता: बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा के बाद भी हिंसा जारी है। रविवार शाम से सोमवार रात तक विभिन्न हिस्सों में 11 लोगों के मारे जाने की खबर है। भाजपा का कहना है कि इनमें नौ उसके कार्यकर्ता हैं, जबकि बर्द्धमान में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक, उत्तर 24 परगना में आइएसएफ के एक कार्यकर्ता की मौत हुई है।

हिंसा पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। कहा है कि विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं पर हुए हमले के बारे में सरकार पूरी जानकारी दे। बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को समन किया है। साथ ही गृह सचिव से रिपोर्ट मांगी है। धनखड़ ने बंगाल के गृह मंत्रालय, पुलिस और ममता बनर्जी से शीघ्र कार्रवाई के लिए कहा है। उधर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने हिंसा के बाद रविवार शाम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा।

नंदीग्राम में घरों और दुकानों में तोड़फोड़ :

नंदीग्राम में सोमवार सुबह कई घरों व दुकानों में घुसकर तोड़फोड़ की गई। भाजपा कार्यालय में आगजनी की गई। भाजपा ने टीएमसी पर हिंसा करने का आरोप लगाया है, जबकि टीएमसी ने इससे इन्कार किया है। रविवार रात कोलकाता के उल्टाडांगा में एक भाजपा कार्यकर्ता को पीटकर मारे जाने का आरोप है। साल्टलेक, न्यू टाउन, भांगड़ में रात भर अशांति रही। शिवपुर-हावड़ा में भाजपा समर्थक की दुकान में दिनदहाड़े लूटपाट की गई। कोलकाता के कई इलाकों में तृणमूल समर्थकों ने दबंगई दिखाई। उत्तर 24 परगना के भाटपाड़ा में क्रूड बम भी बरामद हुए हैं।

तीसरे ही दिन बंगाल जाएंगे नड्डा

बंगाल चुनाव के दौरान हिंसा का जो दौर शुरू हुआ था, वह नतीजा आने के दिन भी दिखा जब भाजपा के कार्यालय में आग लगाने से लेकर कई कार्यकर्ताओं व समर्थकों के साथ मारपीट हुई। कुछ की जानें भी गईं। आशंका है कि आने वाले दिनों में यह और बढ़ेगी। ऐसे में प्रदेश में एक मजबूत विपक्ष के रूप में उभरी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की ओर से भी संदेश दे दिया गया है कि पार्टी न तो झुकेगी और न ही हिंसा को बर्दाश्त करेगी। यही कारण है कि नतीजा आने के दो दिन बाद ही मंगलवार को वह बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर जाएंगे।

भाजपा प्रवक्ता अनिल बलूनी ने कहा कि वह प्रभावित कार्यकर्ताओं से मिलकर उनका हौसला भी बुलंद करेंगे और प्रजातांत्रिक तरीके से हिंसा का विरोध भी करेंगे। अपेक्षित नतीजा न आने के बाद भी राष्ट्रीय अध्यक्ष का तत्काल बंगाल दौरा बहुत कुछ कहता है।

नड्डा का दौरा यह विश्वास जगाएगा कि प्रदेश में जहां हर मोड़ पर ममता सरकार को जवाबदेह बनाने की कोशिश होगी, वहीं कार्यकर्ताओं को मदद भी मिलेगी। भाजपा की ओर से आरोप लगाया जाता रहा है कि बंगाल में 140 भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है। भाजपा ने बंगाल में चुनाव बाद हिंसा के खिलाफ पांच मई को पूरे देश में धरना देने की भी घोषणा की है। नड्डा कोलकाता में धरने पर बैठेंगे।

About Post Author

Author

administrator