भारतीय क्रिकेट टीम के नए कोच का चुनाव इस बार नहीं होगा कप्तान कोहली के हाथ

captain kohli won't be able to interrupt in coach selection decision

भारतीय क्रिकेट टीम, विश्व कप के ख़त्म होते ही रवि शास्त्री का कार्यकाल बतौर हेड कोच अब ख़त्म हो गया है| अब वक्त है टीम के नए कोच के चुनाव का| दरअसल 2017 में अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद अस्थायी रूप से रवि शास्त्री को 2019 वर्ल्ड कप तक टीम के कोच के तौर पर नियुक्त किया गया था|

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के कहने पर ही शास्त्री को टीम कोच बनाया गया था| लेकिन इस बार BCCI अधिकारी ने यह स्पष्ट किया है कि अब विराट कोहली इस मामले में दखल नहीं दे पाएंगे|

साल 2017 में टीम के हेड कोच अनिल कुंबले और विराट कोहली के लम्बे मतभेद के बाद कुबंले ने कोच के पद से इस्तीफ़ा दे दिया था| कप्तान कोहली का कहना था कि उन्हें और बाकि टीम को कुंबले के काम करने के तौर तरीकों से काफी परेशानी हो रही थी| जिसके चलते पूरी टीम को दिक्कतों का सामना कर पड़ रहा था|

इसके बाद सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण वाली क्रिकेट एडवाइजरी ने विराट कोहली के ही कहने पर रवि शास्त्री को टीम का हेड कोच बनाया था| फिर शास्त्री ने खुद ही टीम के बैटिंग कोच, बोलिंग कोच, और फील्डिंग कोच को चुना था|

इसे भी पढ़े : भारतीय पूर्व कप्तान एम एस धोनी के रिटायरमेंट की चर्चा

BCCI ने क्या कहा :

इस बार BCCI ने साफ़ शब्दों में कह दिया है कि टीम कोच के चुनाव में इस बार कप्तान विराट कोहली की कोई राय नहीं ली जाएगी| वो इस फैसले में दखल नहीं दे सकेंगे| इस बार यह फैसला टीम इंडिया को 1983 का वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव के हाथ में होगा| कपिल देव को सपोर्ट स्टाफ नियुक्ति की तीनो टीमों का हेड बना दिया गया है|

आखिरी निर्णय सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त की गई कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (COA), स्टीयरिंग कमेटी और कपिल देव का ही होगा| वे इस बार विराट कोहली की एक भी बात नहीं सुनेंगे| यह फैसला टीम के कप्तान और सभी खिलाडियों को मानना ही होगा|

फ़िलहाल मौजूदा सभी कोच का कार्यकाल 45 दिन के लिए इंडिया के वेस्ट इंडीज दौरे के लिए बढ़ा दिया गया है| टीम इंडिया का यह टूर 3 अगस्त से शुरू होना है| BCCI ने टीम इंडिया के हेड कोच, बैटिंग कोच,बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच, फीजियो, स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच और एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर के पद के लिए रिक्ति निकाली है|

मौजूदा हेड कोच रवि शास्त्री के साथ बाकि सभी कोच स्टाफ सहायक कोच संजय बांगर, बोलिंग कोच भरत अरुण, फील्डिंग कोच आर. श्रीधर चयन प्रक्रिया में दोबारा से हिस्सा ले सकते हैं| लेकिन उसके लिए इन्हे फिर से आवेदन करना होगा|

BCCI का लक्ष्ये :

BCCI का लक्ष्य रहेगा की साउथ अफ्रीका के भारत दौरे से पहले चयन प्रक्रिया समाप्त हो जाए| टीम के नए कोच नियुक्त हो जाएं| टीम इंडिया को 15 सितम्बर से भारत में ही साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज खेलनी है| टीम के नए कोचिंग स्टाफ के कार्यकाल की अवधि 5 सितम्बर से 24 नवंबर 2021 तक होगी| जबकि एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर सिर्फ एक साल के लिए ही नियुक्त किया जायेगा|

Image Source : Google

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *