Read Time:2 Minute, 41 Second

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सहयोग से केंद्र सरकार कोविड-19 महामारी पर लगाम लगाने में जुटी हुई है। संकट काल में राज्यों को हर संभव मदद मुहैया कराई जा रही है। इसी के तहत केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 17.02 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक नि:शुल्क प्रदान की हैं। इसके अलावा टीकाकरण के लिये राज्यों के पास अब भी 94.47 लाख से अधिक वैक्सीन की खुराक मौजूद हैं।

कोरोना के खिलाफ जंग में सरकार की पंचकोणीय रणनीति
दरअसल कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जहां “टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट” और कोविड संबंधी नियमों के पालन के अलावा टीकाकरण भी केंद्र सरकार की पंचकोणीय रणनीति का अहम हिस्सा है, जिससे महामारी को रोका जा सकता है।
कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे चरण का सरल और तेज क्रियान्वयन एक मई को शुरू हो गया है। इसके लिए 28 अप्रैल से 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों का पंजीकरण शुरू कर दिया गया था। ये सभी लाभार्थी सीधे कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) पर या आरोग्य सेतु ऐप के जरिये पंजीकरण करवा सकते हैं।

36 लाख से अधिक खुराक राज्यों को भेजी जाएगी
वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि केंद्र सरकार ने अब तक राज्यों को लगभग 17.02 करोड़ वैक्सीन की खुराक (17,02,42,410 ) नि:शुल्क प्रदान की हैं। इनमें से कुछ वैक्सीनों की खपत हुई और कुछ नष्ट हो गईं, इनकी कुल 16,07,94,796 खुराक हैं। मंत्रालय के मुताबिक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अब भी 94.47 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन की खुराक मौजूद हैं, जिन्हें लगाया जाना है। इसके अलावा 36 लाख से अधिक की अतिरिक्त खुराक (36,37,030) अगले तीन दिनों में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को जारी कर दी जायेंगी।

About Post Author

Author

administrator