करंट न्यूज़

खबर घर घर तक

गार्लिक बेनिफिट्स : लहसुन के चौंका देने वाले फायदे

गार्लिक बेनिफिट्स

क्या आप गार्लिक बेनिफिट्स के बारे में जानते है? गार्लिक एक ऐसी चीज़ है जिसका हम अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में उपयोग करते है| गार्लिक का इस्तेमाल हम खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए करते हैं| कई लोग अपने खाने में ज्यादा गार्लिक का उपयोग करते हैं और कुछ कम| परन्तु यह केवल स्वाद ही नहीं हमारे स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाती है|

आज हम आपको गार्लिक बेनिफिट्स के अंतर्गत लहसुन के चौंका देने वाले फायदे बताएंगे, जिसे जानकार आप वाकई चौक जायेंगे| यदि आप लहसुन की एक कलि का सेवन खाली पेट करते हैं तो यह हमारे शरीर के लिए किसी अमृत से कम नहीं है|

गार्लिक बेनिफिट्स :-

दांत दर्द से दिलाए छुटकारा

यदि आप दांत दर्द से ग्रसित है तो गार्लिक का सेवन आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है| गार्लिक में एंटीबैक्टीरियल गुण होता है और साथ ही यह दर्द निरोधक का भी काम करता है| क्या आप जानते हैं कि माउथवॉश के तौर पर भी लहसुन का इस्तेमाल किया जा सकता है?

लहसुन के गुणों वाले टूथपेस्ट का इस्तेमाल करना भी काफी लाभदायक साबित होता है| दांत दर्द की शिकायत होने पर हर रोज़ एक कच्चे लहसुन की कलि चबाने से फायदा मिल सकता है| लहसुन को लौंग के साथ पीसकर पेस्ट तैयार कर लें| इस पेस्ट को दांतों के दर्द वाले हिस्से पर लगाकर छोड़ दें, कुछ देर में आराम मिल जाएगा|

दमा से छुटकारा

गार्लिक दमा के रोगियों के लिए अत्यंत लाभदायक साबित हो सकता है| सांस आसानी से चले इसलिये लहसुन की एक पंखुडी गर्म करके नमक के साथ खाये| दमा कम होने लिये एक प्याली गर्म पानी में दो चम्मच शहद और 10 बूंद लहसुन का रस लीजिये|

इसे भी पढ़े: पपाया युसेस एंड बेनिफिट्स: पपीते के लाभकारी इस्तेमाल

न्युमोनिया में आराम पाने के लिये एक लिटर पानी में एक ग्राम लहसुन और 250 मिली दूध डालकर उबालें| एक चौथाई होने तक उबालते रहें| यह दूध दिन में तीन बार लें| क्षय रोग में आराम पाने के लिये लहसुन दूध में उबाल कर लेना चाहिये| ऐसा आयुर्वेद में बताया गया है|

पाचन में सुधार

लहसुन शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है| पाचन रस का स्त्राव अच्छा करता है जिससे आंतो की सर्पिल हलचल में गति मिलती है| किसी भी पाचन विकार में लहसुन का दूध या पानी के साथ अर्क लिया जा सकता है| आन्तों के जीवाणु संक्रमण में गार्लिक के इस्तेमाल से फायदा मिलता है|

यह कृमी नाशक भी है और हर रोज लहसुन के दो गांठे खाने से अत्यंत लाभ प्राप्त होता है| कोलायटीस, पेचीश में लहसुन की एक कलि काफी है| पेट के सभी रोगों से राहत पाने के लिए लहसुन एक हिस्सा, सैन्धा नमक और घी में भुना हुआ हिंग का एक चौथाई हिस्सा, अद्रक के रस के साथ लेने से बहुत लाभ मिलता है|

त्वचा को साफ़ करे

कील और मुहासे कम होने के लिये चेहरे पर नियमित गार्लिक लगाना चाहिए| त्वचा पर जहाँ दाद का प्रकोप हुआ है वहाँ लहसुन रगड़ने से वह खराब त्वचा जलकर ठीक हो जाती है| गार्लिक रक्त को शुद्ध करता है तथा रक्त से विषेले तत्व को दूर करता है| जख्म और दाग दूर करने के लिये जीवाणुहीन साफ पानी में गार्लिक रस 3:1 इस मात्रा में मिलाकर लगाये|

कैंसर को दूर रखे

कैंसर में लहसुन का नियमित सेवन जारी रखने से सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या बढती है तथा कैंसर की कोशिकाओं की बढत 139 % से कम हो जाती है| लहसुन में सेलेनियम की मौजूदगी से वह ट्यूमर और पेट के कैंसर की आशंका को कुछ हद तक कम कर सकता है|

इसे भी पढ़े: प्राणायाम बेनिफिट्स:- प्राणायाम के कुछ अद्भुत फायदे

दरअसल, सेलेनियम में कैंसर से लड़ने वाले गुण पाए जाते हैं| सिर्फ इतना ही नहीं, यह डीएनए उत्परिवर्तन और अनियंत्रित सेल प्रसार और मेटास्टेटिस को भी रोकता है|

वजन कम करता है

आज की व्यस्त जीवनशैली में एक्सरसाइज़ या योग के लिए समय निकाल पाना काफी मुश्किल हो गया है| इसकी वजह से कम उम्र में ही लोग न सिर्फ लाइफस्टाइल डिसॉर्डर्स के शिकार हो रहे हैं, बल्कि बढ़ते वजन की समस्या से भी ग्रस्त हैं|

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें

लहसुन का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, एडिपोजेनिक टिशू को बढ़ने से रोकता है और थर्मोजेनेसिस को बढ़ाता है| लहसुन के ये अनोखे गुण आपको मोटापे से राहत दिला सकते हैं| हालांकि इसके सेवन के साथ ही अपनी लाइफस्टाइल में एक्सरसाइज़ को भी जगह दें|

सर्दी जुखाम से बचाए

लहसुन में एंटी वायरल, एंटी बैक्टीरियल और एंटी ऑक्सीडेंट गुणों की भरमार होती है जिनकी वजह से सर्दी-जुकाम जैसी आम समस्याओं से राहत मिलती है| गार्लिक में एलियानेस नाम का एक एंजाइम भी मौजूद होता है जो एलिसिन नामक सल्फर युक्त कंपाउंड में बदल जाता है| यह कंपाउंड सफेद रक्त कोशिकाओं (व्हाइट ब्लड सेल्स) जो सर्दी-जुकाम के मुख्य वायरस हैं, से लड़ने में आपकी मदद करते हैं|

बालों का झड़ना रोके

बालों को झड़ने से बचाने के लिए हम लोग हर दिन क्या कुछ नहीं करते हैं| कभी महंगे शैंपू का इस्तेमाल करते हैं तो कभी स्पा सेंटर्स के चक्कर लगाते हैं| आपको यह बात जानकर थोड़ी हैरानी हो सकती है कि गार्लिक से बने जैल से बाल झड़ने की इस समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है|

यह थे गार्लिक बेनिफिट्स जो आपकी ज़िन्दगी को और आसान बनाते हैं और साथ ही आपके स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाते हैं| अपने खान-पान में अब लहसुन को ज़रूर शामिल करें|

Image Source : chopra.com

Single Column Posts

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares स्टाफ सिलेक्शन कमिशन (SSC) ने 21st February 2020 को…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares AIIMS ,ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज ने हाली…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares माइक्रोबायोलॉजिस्ट सूक्ष्मजीवों जैसे बैक्टीरिया, वायरस, शैवाल, कवक और कुछ…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares आजकल की पीढ़ी ज्यादा मेहनत में विश्वास नहीं रखती…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares कई साल पहले आम धरणा थी कि विज्ञान से…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares दुनिया में बहुत कम ऐसे लोग बचे हैं जो…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares फ़ूड इंडस्ट्री एक विज्ञान शाखा है जो उत्पादन, प्रसंस्करण,…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares एक ऑफिस में सैकड़ों लोग काम करते हैं| हर…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares आपने भी कई लोगों को कहते हुए सुना होगा…

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Pinterest Shares क्या आपको लगता है कि आपको फैशन के बारे…

Pin It on Pinterest