July 6, 2020

करंट न्यूज़

खबर घर घर तक

क्या चीन में फिर लौट रहा कोरोना का संक्रमण? बीजिंग में लॉकडाउन

क्या चीन में फिर लौट रहा कोरोना का संक्रमण? बीजिंग में लॉकडाउन

कोरोना वायरस संकट के फिर से नए मामले सामने आए

चीन में कोरोना वायरस संकट के फिर से गंभीर होने की रिपोर्ट्स के बीच यहां लगातार कई नए मामले सामने आ रहे हैं। वुहान के बाद अब देश की राजधानी बीजिंग के कई हिस्‍सों में लॉकडाउन लगा दिया गया है, जहां बीते कुछ दिनों में कोरोना वायरस संक्रमण के कई नए मामले सामने आए हैं। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच प्रशासन ने यहां पहली से तीसरी कक्षा तक के स्‍कूल खोलने की योजना भी फिलहाल स्‍थगित कर दी है।

यह भी पढ़े:- वापस लौटे शख्स ने सुनाई आपबीती – कैसे लाया गया उसे भारत से नेपाल

बीजिंग में 56 दिनों में पहली बार इस तरह के नए मामले सामने आए

पिछले तीन दिनों में बीजिंग में संक्रमण के नौ नए मामले सामने आए है, जबकि पुरे देश में कोरोना संक्रमण के इस अवधि में कुल 18 नए मामले सामने आए है| इनमे बीजिंग में स्थानीय संक्रमण के 6 मामले है| बीजिंग में 56 दिनों में पहली बार इस तरह के नए मामले सामने आए है, जिसके बाद यह प्रसाशन में हड़कंप मचा हुआ है| यह संक्रमण के नए मामलों की संख्या में बढ़ोतरी को देखते हुए कई बाजारों को बंद कर दिया गया है|

फेंगतई जिले के शिनफादी बाजार और बीजिंग सीफ़ूड बाजार को तत्काल बंद

यह कोरोनावायरस संक्रमण के नए मामलों के सामने आने के बाद प्रसाशन ने फेंगतई जिले के शिनफादी बाजार और बीजिंग सीफ़ूड बाजार को तत्काल बंद कर दिया है| शिनफादी बाजार में आयातित सैल्मन मछली को काटने वाले बोर्ड पर कोरोना वायरस पाया गया था, जिसके बाद उसके संपर्क में आए नौ लोगों को क्‍वारंटीन कर दिया गया था| बाद में उनकी जाँच भी की गई, जिसमे उन्हें संक्रमित नहीं पाया गया|

बीजिंग में करीब दो महीने बाद कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों के सामने आने के बाद यहां अधिकारियों में चिंता बढ़ती जा रही है। संकट को भांपते हुए प्रशासन ने यहां फिलहाल स्‍कूलों में पहली से तीसरी कक्षाएं खोलने की योजना स्थगित कर दी है। प्रशासन फिलहाल इसका पता लगाने में जुटा है कि संक्रमण के जो नए मामले सामने आए हैं, उनका स्रोत क्‍या है।

यह भी पढ़े:- CM गहलोत बोले-मोदी-शाह को कोरोना की चिंता नहीं

यात्रियों के लिए 14 दिनों के क्‍वारंटीन को भी अनिवार्य

संक्रमण की रोकथाम को लेकर चीन ने पहले ही यह सुनिश्चित किया था कि कोई अंतरराष्ट्रीय उड़ान या विदेश में फंसे चीनी नागरिकों को वापस लेकर लौट रहा विमान बीजिंग में न उतरे। सभी उड़ानों को जहां दूसरे शहरों की ओर मोड़ा गया था, वहीं यात्रियों के लिए 14 दिनों के क्‍वारंटीन को भी अनिवार्य किया गया है।

Image Source:- www.webmd.com

Share and Enjoy !

0Shares
0 0 0

Pin It on Pinterest