Read Time:3 Minute, 19 Second

इस्तेमाल कोरोना का संक्रमण है या नहीं इसकी जांच के लिए अब व्यक्ति को बार-बार लैब जाने की जरूरत नहीं है क्योंकि अब घर बैठे ही कोरोना की जांच खुद कर सकते हैं। दरअसल, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद-आईसीएमआर ने घर में ही कोविड जांच के लिए ‘Coviself’ किट को मंजूरी दे दी है। 

आईसीएमआर के मुताबिक इस किट के बाद अब लोग महज 250 रुपये खर्च कर घर पर ही कोविड टेस्ट कर सकते हैं। हालांकि, आईसीएमआर ने जांच के लिए एडवाइजरी भी जारी की है, जिसमें फिजूल जांच नहीं करने की सलाह दी गई है।   

https://twitter.com/ICMRDELHI/status/1395058817310748673?s=20  

कौन कर सकता है खुद टेस्ट परिषद ने कहा कि रैपिड एंटीजन टेस्ट से घर में ही परीक्षण की सलाह केवल कोरोना लक्षण वाले और संक्रमण की पुष्टि हो चुके लोगों के निकट संपर्क में आए लोगों को दी जाती है। DCGI ने भी बाजार में किट बेचने की मंजूरी दे दी है, हालांकि बाजार में अभी आने में थोड़ा वक्त लगेगा। 

कैसे करें इस्तेमाल जांच के लिए यूजर को अपने मोबाइल फोन पर माई लैब ऐप डाउनलोड करना होगा। यह ऐप जांच प्रक्रिया के बारे में बताएगा और रोगी को उसकी पॉजिटिव या नेगेटिव रिपोर्ट उपलब्ध कराएगा। आईसीएमआर ने कहा कि रैपिड एंटीजन टेस्ट के लिए सिर्फ नेजल स्वैब की ही जरूरत होगी।

Coviself

यह भी पढ़े:- अब पश्चिम बंगाल में दस्तक: Cyclone Tauktae,राज्य सरकार को किया अलर्ट

सभी यूजर को जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद उसी मोबाइल फोन से परीक्षण स्ट्रिप की फोटो लेने को कहा गया है, जिसका उपयोग ऐप डाउनलोड करने और पंजीकरण के लिए किया गया है। किट पर नतीजों के लिए 15 मिनट का इंतजार करें। टेस्ट किट पर दो भाग होंगे, जिनमें से एक कंट्रोल सेक्शन और एक टेस्ट सेक्शन होगा।

अगर बार केवल कंट्रोल सेक्शन ‘C’ पर नजर आए, तो नतीजा नेगेटिव है, लेकिन बार कंट्रोल सेक्शन और टेस्ट सेक्शन (T) दोनों पर आए, तो इसका मतलब है कि टेस्ट पॉजिटिव है।  आईसीएमआर ने कहा कि इस परीक्षण में पॉजिटिव आने वालों को दोबारा जांच कराने की जरूरत नहीं होगी, जबकि नेगेटिव आए कोरोना लक्षण वाले लोगों को तुरंत आरटीपीसीआर जांच करानी होगी। टेस्ट किट के साथ भी एक मैनुअल भी मिलेगा जिसमें सारी जानकारी मिलेगी।

Image Source:- www.google.com

About Post Author

Author

administrator