Read Time:2 Minute, 25 Second

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य राज्यमंत्री मंत्री अतुल गर्ग ने मंगलवार यानि 25 मई को कोविड एल -3 Ghaziabad के संतोष अस्पताल का जायज़ा किया| पीपीई किट पहनकर कोविड एल-3 अस्पताल में जायजा करने वाले पहले मंत्री है| उन्होंने वह भर्ती कोरोना संक्रमित मरीज़ों का हाल पूछा|

इस दौरान उन्होंने अस्पताल के नोडल डॉ. मिथलेश कुमार सिंह को निर्देश दिए है.कि रोज मरीज़ों के परिवार वालो से वीडियो कॉल के जरिये बात कराएं| और अगर किसी के परिवार वालों को उनके मरीज़ से मिलना हो तो पीपीई किट पहनाकर जरूर मिलवाया जाये|

दरअसल, संतोष अस्पतालों से रोज कोई न कोई लापरवाही की शिकायतें आ रहीं है.कोरोना की इस दूसरी लहर में सबसे ज्यादा कोरोना से मौतें इसी अस्पताल में हुई है| इसी को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य राज्यमंत्री द्वारा यह निरिक्षण किया गया है|

यह भी पढ़े:- केन्द्र सरकार ने राज्यों को अब तक कोरोना वैक्सीन की 18 करोड़ डोज मुफ्त भेजी

साथ ही पीपीई किट पर राज्यमंत्री द्वारा नाम प्लेट भी लगवाई गई है| जिससे लोग जान सके की राज्यमंत्री अतुल गर्ग सबका हाल पूछने आये है| संतोष अस्पताल में प्रबंधक भी मौजूद रहे| साथ ही कुछ मरीज़ो ने अस्पताल की कुछ लापरवाही की शिकायत भी की|

गौर करने वाली बात तो यह है की इस महीने रोज जो एक हज़ार कोरोना संक्रमित आते थे तो इस बार वो संख्या काफी कम पाई गई| तीन दिन से दो सौ से निचे केस आ रहे है, कल यानी सोमवार को 179 केस ही सामने आये| सोमवार को सात कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है|

Image Source:- www.google.com

About Post Author

Author

administrator