April 1, 2020

करंट न्यूज़

खबर घर घर तक

New epidemic : चीन से निकला एक और वायरस जानिए कौन है वो ?

New epidemic

New epidemic अभी दुनिया कोरोना से लड़ने में सक्षम भी नहीं हुई तब तक चीन में आया एक और वायरस|लोगो का हाल बेहाल कर चुकी कोरोना का केहर अभी कम तक नहीं हुआ तब तक Hantavirus ने दुनिया में दस्तख दे दी|

New epidemic ने लिया जन्म

सोमवार को चीन ग्लोबल टाइम्स ने अपने ट्वीटर पर ट्वीट किया की युनान जगह के एक वासी की मौत हो गई है जब वो शान्डोंग शहर से काम करके लोट रहा था|

बस में सवार 32 लोगो की भी जांच की गई है| इसके बाद दुनिया में हड़कंप का माहौल बना हुआ है की क्या एक और वायरस अब लोगो को घरो में कैद होने पर मजबूर करेगा|

ये hantavirus क्या है ?

Hantavirus ,कृंतक वायरस के परिवार से आता है,इस से कई तरह की बीमारिया होती है| अमेरिका में इससे ” नई वर्ल्ड ” के नाम से जानते है तथा यूरोप और ऐसा में “ओल्ड वर्ल्ड ” के नाम से ये वायरस मशूहर है|

इससे आपको Hantavirus Pulmonary Syndrome (HPS) और Haemorrhagic Fever with Renal Syndrome (HFRS) हो सकते है|

ये भी पढ़ें:-Lock-down : जानिए किन छोटे-बड़े शहरों को किया गया लॉकडाउन……

New epidemic लक्षण क्या है ?

Hantavirus Pulmonary Syndrome (HPS) में आपको फीवर,थकान, मांसपेशी में दर्द,सर दर्द,चक्कर आना,ठण्ड लगना,पेट दर्द,ठीक से दिखाई नहीं देना,आखो में जलन,रशेस आदि हो सकता है|

अगर आपने इससे सही समय पर उपचार नहीं किया तो खासी और सासँ लेने में तकलीफ भी हो सकता है|

यही दूसरी तरफ Haemorrhagic Fever with Renal Syndrome (HFRS) में लौ ब्लड प्रेशर, वैस्कुलर लीकेज, किडनी फेलियर आदि जैसी गंभीर बीमारिया हो सकती है|

इसके लक्षण 1-2 हफ्तों में दिखना शुरू हो जाते है, जिसके बाद धीरे धीरे तकलीफ बढ़ने लगती है|

New epidemic फैलता कैसे है ?

ये वायरस कतई हवा से नहीं फैलता,यह सिर्फ तब ही फैलेगा अगर इंसान कृंतक  के मूत्र,मल और सलाइवा के संपर्क में आए या संक्रमित जानवर ने काट लिया| अभी तक प्रमाण नहीं मिला है,की ये इंसान से इंसान में संचारित हो सकता है, अभी के लिए ये दुर्लभ माना जा रहा है|

New epidemic

ये भी पढ़ें:-Corona-Virus : जानिए पुलिस ने क्या किया बिहारी मस्जिद में छिपे विदेशियोंके साथ

सेंटर ऑफ़ डिसीसेस कण्ट्रोल एंड प्रिवेंशन

CDC की माने तो उनका कहना है की पूरी तरीके से ठीक होने में करीब कुछ हफ्तों से लकर महीना तक लग सकता है| इस वायरस से बचने का एक मात्र तरीका है की कृंतक आबादी को नियंत्रित किया जाए|देश के 76 जिलों में लॉकडाउन, 400 के करीब कोरोना पीड़ितों की संख्यामृत्यु दर माना जा रहा है की 3.8 से लेकर 15 प्रतिशत तक हो सकता है|वर्ल्ड हेल्थ ओर्गिनिज़शन की माने तो उनका कहना है ये नया डिसीसेस नहीं है|

 

Image Source:-www.currentnewsdainik.com

Share and Enjoy !

0Shares
0 0 0

Pin It on Pinterest