September 19, 2020

करंट न्यूज़

खबर घर घर तक

Corona Virus : दिल्ली वालों के लिये अच्छी ख़बर, आंकड़ों से समझिये सुधर रहे हालात

Corona Virus : दिल्ली वालों के लिये अच्छी ख़बर, आंकड़ों से समझिये सुधर रहे हालात

कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों में रिजर्व किए गए कुल बेड में से 56 प्रतिशत बेड

पिछले छह दिनों में दिल्ली में कोविड संक्रमण की दर में 10.91 प्रतिशत की कमी आई है। 28 जून को संक्रमण रेट 23.80 प्रतिशत था, जो 29 जून को 12.89 प्रतिशत रह गया। इसका असर यह हो रहा है कि कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों में रिजर्व किए गए कुल बेड में से 56 प्रतिशत बेड खाली हैं। फिलहाल दिल्ली में कुल 13,510 बेड हैं।
इनमें से 5890 बेड भरे हुए हैं और 7620 बेड खाली हैं। संक्रमण दर में आई कमी की वजह से जहां एक तरफ बेड खाली हैं, वहीं अब पहले की तरह मरीज अस्पतालों में एडमिट होने के लिए मारामारी भी नहीं कर रहे हैं।
कोविड

कोविड मरीजों की जांच, संक्रमण दर में कमी, बेड की व्यवस्था?

दिल्ली में कोविड मरीजों की जांच, संक्रमण दर में कमी, बेड की व्यवस्था, रिकवरी जैसे मामलों में पिछले कुछ दिनों से बड़ा बदलाव देखा जा रहा है। डॉक्टर बताते हैं कि जून में दिल्ली में तेजी से संक्रमण फैल रहा था। एक बार ऐसी स्थिति हो गई कि लगा कि अस्पतालों में बेड ही नहीं है। लेकिन जिस प्रकार केंद्र व राज्य सरकार ने मामले का रिव्यू किया और उसके बाद बड़े स्तर पर बदलाव किया, उसके नतीजे अब सामने आ रहे हैं।

जहां अस्पतालों में बेड नहीं थे, आज 50 प्रतिशत से ज्यादा बेड खाली हैं

पहले जहां पांच से सात हजार लोगों की जांच हो रही थी, अब रोजाना 16 से 20 हजार जांच हो रही है। पहले जहां अस्पतालों में बेड नहीं थे, आज 50 प्रतिशत से ज्यादा बेड खाली हैं। सरकार ने होटल से लेकर बैक्विट हॉल तक में बेड की व्यवस्था कर दी है। रेलवे कोच तक तैयार कर लिए गए हैं। लेकिन अच्छी बात यह है कि अभी इसकी जरूरत ही नहीं पड़ी है। इस वजह से फिलहाल दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में दिख रही है।

लैब की संख्या बढ़ाकर 48 कर दी गई

रैपिड एंटीजन के प्रयोग से रिपोर्ट तुरंत मिलने लगी, जिससे बहुत हद तक स्थिति कंट्रोल में हो गई। लैब की संख्या अब बढ़ाकर 48 कर दी गई है। इस वजह से संक्रमण रेट में अब धीरे-धीरे कमी दिख रही है। 23 जून को संक्रमण के सबसे अधिक 3,947 मामले सामने आए थे। 16,952 सैंपल की जांच हुई थी, इसके अनुसार 23.80 पर्सेंट सैंपल पॉजिटिव थे। लेकिन छह दिन बाद 29 जून को संक्रमण रेट सिर्फ 12.89 प्रतिशत रह गया है। संक्रमण की दर में 10.91 प्रतिशत की कमी आई है।
कोविड
यह भी पढ़े:- aajtak.intoday.in

47,357 को ठीक होने के बाद छुट्टी मिल गई या वे दिल्ली से चले गए

29 जून तक दिल्ली में रिकवरी रेट 66 प्रतिशत पहुंच गया है, जो राष्ट्रीय रिकवरी रेट 58.67 प्रतिशत से अधिक है। जून में संक्रमण के 64 हजार से अधिक मामले आए, जबकि 47,357 को ठीक होने के बाद छुट्टी मिल गई या वे दिल्ली से चले गए। 19 जून को रोगियों के ठीक होने की दर 44.37 प्रतिशत थी, जो उसके अगले दिन बढ़कर 55.14 प्रतिशत हो गई। 23 जून को एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक 3,947 मामले सामने आए, तब ठीक होने की दर 59.02 प्रतिशत थी।

25 जून को यह फिर बढ़कर 60.67 प्रतिशत पर पहुंच गई

हालांकि 24 जून को यह दर थोड़ी गिरावट के बाद 58.86 प्रतिशत रही, लेकिन 25 जून को यह फिर बढ़कर 60.67 प्रतिशत पर पहुंच गई। तब से ठीक होने की दर 60 प्रतिशत से अधिक पर बनी हुई है। 26 जून तक संक्रमितों की कुल संख्या 77,240 जबकि ठीक हो चुके लोगों की संख्या 47,091 थी। इस दिन संक्रमण से उबरने की दर 60.96 प्रतिशत थी। आंकड़ों के अनुसार, अगले दिन यानी 27 जून को दिल्ली में संक्रमितों की संख्या 80,000 के पार हो गई। इस दिन ठीक होने की दर 61.48 प्रतिशत थी। इसके बाद 29 जून को यह बढ़कर 66.03 प्रतिशत पर पहुंच गई।

Share and Enjoy !

0Shares
0 0

Pin It on Pinterest