Read Time:3 Minute, 4 Second

WHO की टीम का वुहान दौरा चीन ने रोका:
चीन अपने आपको दुनिया के सामने आने से बचाने का हर संभव प्रयास करता हैं, इसका सबसे बड़ा उदहारण वह फेसबुक और गूगल का ना होना हैं, कोरोना की खबरें भी कम ही सामने आती हैं, कोरोना पर खबर बनाने के लिए एक पत्रकार को मिली हुई सज़ा से ये साबित होता हैं की चीन बचाव की मुद्रा में आगे बढ़ना चाहता हैं.
WHO की टीम जो की वुहान जाकर कोरोना के फैलने की जाँच करना चाहती थी उसे रोकने की खबर सामने हैं, ये सभी बातें चीन के लिहाज़ से नयी नहीं हैं. बीजिंग पर ये आरोप पहले से ही लग रहा हैं की वो कोरोना को लेकर खबरें छुपा रहा हैं.

WHO ने इस मामले पर कड़ी आपत्ति जताई हैं, WHO के महानिदेशक Tredos Adhenom ने बुधवार को ये बात स्पष्ट की हैं की चीन उन्हें वुहान आने की अनुमति नहीं दे रहा हैं, इस बात से उन्हें निराशा हुई हैं. WHO की यात्रा पर दुनिया भर की नज़रे थी.
तय हुए कार्यक्रम के अनुसार WHO दल चीन जाने के लिए रवाना हुआ था, मगर उसे चीन ने आवश्यक मंजूरी नहीं दी हैं. चीन ने पहले ये अस्वाशन दिया था की वो आतंरिक प्रक्रियाओं को तेज़ी से पूरा कर रहा हैं.

इसे भी पढ़े: अमेरिकी लोकतंत्र पर कठोर हमला

मिशन का मुख्य उद्देश्य कोरोना संक्रमण के शुरुआती ठिकाने यानि की वुहान जाकर मानव संक्रमण का पता लगाने का था, मगर चीन के वर्त्तमान रवैये से ये मुमकिन नहीं हो रहा हैं.
अमेरिका ने WHO की कोरोना पर करवाई को कारगर ना क़रार देते हुए उसे भविष्य में मदद ना देने की बात कही थी, ब्रिटैन के करना वैक्सीन बनाने के बाद से भारत भी इस दिशा में आएगी बढ़ चुका हैं, वुहान से मिलने वाली जानकारी महत्वपूर्ण होती, इसपर चीन के रुख से वैश्विक आपदा से लड़ने में गतिरोध उत्पन हुआ हैं, इस मसले के जल्दी हल की सम्भावना बने यही आशा की जा सकती हैं.

इसे भी पढ़े: ‘आत्मनिर्भर भारत’ और रूस की नजदीकी पर अमेरिका बेचैन क्यों?

देश विदेश की तमाम खबरों के लिए जुड़े रहे करंट न्यूज़ के साथ, हमे बताये कैसा लगा आर्टिकल “WHO की टीम का वुहान दौरा चीन ने रोका”, Like share subscribe करके

देश में कहां कहां फैला Bird Flu | Rajasthan|Madhyapradesh|Kerla

About Post Author

Author

administrator